पुरस्कार समारोह के चित्र प्राप्त करने के लिए यहां पर क्लिक करें!

संस्थान की पुरस्कार योजना


दैनिक राष्‍ट्रीय सहारा, में दिनांक 24-07-2015 को प्रकाशित वर्गीकृत विज्ञापन

राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान, मुख्य भवन, कक्ष सं0-119 ब, भूतल, गेट नं0-9 के निकट, उ0प्र0 सचिवालय, हज़रतगंज, लखनऊ-226001, फोन-0522-2213943, द्वारा उत्तर प्रदेश के राज्यकर्मियों, सेवानिवृत्त कर्मियों एवं हिन्दीतर भाषा-भाषी प्रदेशों के राज्यकर्मियों को पुरस्कृत करने की शासन की योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष-2015-16 के लिए देवनागरी लिपि में लिखित उत्तर प्रदेश की भाषाओं/बोलियों में साहित्यिक सेवाओं के लिए राज्यकर्मियों हेतु 12 पुरस्कार, सेवानिवृत्त राज्यकर्मियों हेतु 04 पुरस्कार एवं हिन्दीतर भाषा-भाषी प्रदेशों/केन्द्र शासित प्रदेशों के राज्यकर्मियों हेतु 02 पुरस्कार तथा फारसी लिपि में लिखित उर्दू भाषा में साहित्यिक सेवाओं के लिए राज्यकर्मियों हेतु 04 पुरस्कार एवं सेवानिवृत्त राज्यकर्मियों हेतु 02 पुरस्कार दिये जाने हैं। 

उक्त भाषाओं/बोलियों में दीर्घकाल तक साहित्यिक सेवा करने वाले तथा गद्य या पद्य की पिछले छः वर्षों के अन्दर प्रकाशित मौलिक कृतियों के लिए 51-51 हजार रुपये के पुरस्कार प्रदान किये जायेंगे। इस हेतु उत्तर प्रदेश सरकार/ हिन्दीतर भाषा-भाषी प्रदेशों /केन्द्र शासित प्रदेशों के अन्तर्गत नियमित या तीन वर्ष से (पद के लिये निर्धारित वेतनक्रम में) लगातार कार्य करने वाले साहित्यकार सरकारी कर्मियों एवं उत्तर प्रदेश सरकार के सेवानिवृत्त कर्मियों से निर्धारित प्रारूप में प्रविष्टियाँ विज्ञप्ति निकलने के दिन से तीन माह के भीतर आमंत्रित हैं। प्रारूप एवं शर्तें पता लिखा, डाक टिकट लगा लिफाफा भेजकर (कूरियर नहीं) या व्यक्तिगत रूप से दिनांक 30 सितम्बर, 2015 तक प्राप्त की जा सकती हैं। प्रारूप एवं शर्तें संस्थान की वेबसाइट:- http://sansthan.blogspot.com से भी प्राप्त की जा सकती हैं। 

डॉ0 दिनेश चन्द्र अवस्थी 
सचिव, पुरस्कार समिति 
मो. 9919281002